अन्नपूर्णा रसोई योजना राजस्थान 2024: Annapurna Rasoi Yojana Rajasthan

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

राजस्थान के मुख्यमंत्री भजन शर्मा द्वारा पूर्ववर्ती अशोक गहलोत द्वारा चलाई इंदिरा रसोई योजना का नाम बदलकर Annapurna Rasoi Yojana रख दिया गया| इस योजना के तहत राज्य की गरीब और जरूरतमंद लोगों को प्रतिदिन दोपहर भजन भरपेट मात्र ₹8 में उपलब्ध कराया जाता है| इस योजना के नाम बदलने की घोषणा मुख्यमंत्री भजनलाल द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में की गई| हम इस पोस्ट में अन्नपूर्णा सोई योजना राजस्थान के बारे में विस्तार से जानेंगे पूरी जानकारी के लिए पोस्ट अंत तक पढ़िए|

Annapurna Rasoi Yojana Rajasthan

अन्नपूर्णा रसोई योजना राजस्थान 2024

वर्तमान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा द्वारा 6 जनवरी 2024 को अन्नपूर्णा रसोई योजना की शुरुआत की गई| इस योजना के माध्यम से राज्य के गरीब लोगों को लाभ दिया जाएगा| राज्य के गरीब और जरूरतमंद लोगों को सिर्फ ₹8 में एक वक्त का ताजा और पोस्टिक खाना प्रदान किया जाता है| इस खाने की थाली की कीमत ₹25 है जिसमें 17 रुपए सरकार द्वारा खर्च किए जाते हैं और ₹8 व्यक्ति खुद भरता है | इस प्रकार से इस योजना के तहत राजस्थान सरकार द्वारा ₹8 में भरपेट खाना उपलब्ध कराया जाता है|

Annapurna Rasoi Yojana

योजना का नामअन्नपूर्णा रसोई योजना
किसने शुरू कीमुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा
लाभार्थीराज्य की गरीब लोग
उद्देश्यकम पैसों में भरपेट पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराना
राज्यराजस्थान
आधिकारिक वेबसाइटजल्द

राजस्थान इंदिरा गांधी रसोई योजना का नाम बदल गया

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा इंदिरा गांधी रसोई योजना को शुरू किया गया था| इस योजना के तहत जरूरतमंद लोगों तक भोजन पहुंचाने के लिए भोजन वैन चलाई गई थी| जिससे लोगों को भोजन दिया जाता था | उसके बाद अशोक गहलोत की सरकार द्वारा इस योजना का नाम बदलकर इंदिरा रसोई योजना कर दिया गया| अब इस योजना के तहत वैन की जगह पर लोगों को बैठाकर भोजन कराया जाने लगा| लेकिन अभी बीजेपी की नई सरकार के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा द्वारा फिर से इस योजना का नाम बदलकर अन्नपूर्णा रसोई योजना किया गया| इस योजना में कई कमियों को दूर किया गया|

राजस्थान फ्री मोबाइल योजना

अन्नपूर्णा रसोई योजना का उद्देश्य

राजस्थान सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य गरीब लोगों को दो वक्त का भरपेट ताज स्वादिष्ट भोजन उपलब्ध कराना है| ऐसे गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर लोग जो दो वक्त का खाना खाने में सक्षम नहीं है| उन्हें इस योजना के तहत भरपेट भोजन उपलब्ध कराया जाता है| इस योजना के तहत वह लोग सिर्फ ₹8 में भरपेट दो टाइम का खाना खा सकते हैं| राज्य सरकार का इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य यही था कि राज्य में कोई भी लोग भूखा न रहे|

अन्नपूर्णा रसोई योजना लाभ एवं विशेषताएं

  • इंदिरा गांधी रसोई योजना का नाम बदलकर मुख्यमंत्री बदलने शर्मा द्वारा अन्नपूर्णा रसोई योजना रखा गया|
  • इस योजना के तहत राज्य के जरूरतमंद और गरीब लोगों को भरपेट स्वादिष्ट और ताजा भोजन उपलब्ध कराया जाता है|
  • इस योजना के तहत व्यक्ति को एक समय का भोजन करने के लिए सिर्फ ₹8 का भुगतान करना होता है|
  • इस योजना का लाभ प्राप्त कर पौष्टिक स्वादिष्ट और ताजा भोजन करने से उनके स्वास्थ्य में भी काफी सुधार आएगा|
  • इस योजना के तहत रोजाना 1.34 लाख व्यक्ति और हर साल 4 .87 करोड लोगों को लाभ मिल रहा है|

राजस्थान लाडो प्रोत्साहन योजना

अन्नपूर्णा रसोई योजना पात्रता

  • राजस्थान का स्थाई निवासी कोई भी व्यक्ति इस योजना का लाभ ले सकता है|
  • गरीब और जरूरतमंद लोगों को इस योजना में प्राथमिकता दी जाती है|
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए कोई भी आयु सीमा नहीं रखी गई है|

अन्नपूर्णा रसोई योजना आवेदन प्रक्रिया

अगर आप इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको इसके लिए कहीं पर भी आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है| कोई भी व्यक्ति इस योजना के तहत भोजन ग्रहण करना चाहता है तो वह अपना कोई भी पहचान पत्र दिखाकर इस योजना के तहत दो टाइम का भरपेट खाना खा सकता है| इसके लिए कोई भी ऑफलाइन अथवा ऑनलाइन आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है|

Important Link

Annapurna Rasoi Yojana NotificationClick Here
Check Other PostsFamilyid.in

FAQ

अन्नपूर्णा रसोई योजना क्या है?

राजस्थान सरकार द्वारा इंदिरा गांधी रसोई योजना का नाम बदलकर अन्नपूर्णा रसोई योजना रखा गया है| इस योजना के तहत ₹8 में भरपेट खाना उपलब्ध कराया जाता है|

अन्नपूर्णा रसोई योजना किसने शुरू की?

प्रधानमंत्री भजनलाल शर्मा जी ने

इंदिरा गांधी रसोई योजना का नाम कब बदल गया?

6 जनवरी 2024 को

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

Leave a Comment

error: Content is protected !!